July 26, 2017

मेरा पडोसी श्री हंसा दत्त पांडेजी- एक भेंट वार्ता !

मेरे प्रिय मित्र, श्री. हंसा दत पांडेजीके साथ भेंटवार्ता !




                                        पांडेजी, भाईसाब, और श्रीमति मोहिनी हंसादत पांडे



हिमालय पर्वतीय हाउसिंग को आपरेटिव सोसाईट, घाटकोपर प् मुंबई !

हंसा दत्त पांडेजी, हमारे हिमालय पर्वतीय को आपरेहटीव हाउसिंग सोसाइटीमे रहनेवालोंसे एक सज्जन है. मै उनके परिवार के हर सदस्य को जानता हु।  इसलिए उनके बारे में कुछ लिखनेका साहस करता हु।

त्तरांखंड राज्यके सुसंस्कृत ब्राह्मण परिवार में श्री देवीदत्त पांडे,और श्रीमती जोगुलु देवी पांडे परिवार में ३ जनवरी, १९४५ में जन्म लिया।  पिताजी गायक थे. संगीत  वाद्यों को बनाकर उसे  बेचनेका काम करते थे. गांव के कई भजन और संगीत कार्यक्रम आयोजन करते थे और खुद गाते भी थे।

श्री देवी दत्त पांडेजी को पांच बच्चे थे।
१. हरुली देवी पांडे
२  केशु दत्त पांडे,
३. गोविंद बल्लभ पांडे,
४. हंसा दत्त पांडे
५. खीमानंद पांडे
प्राथमिक विद्याभ्यास अल्मोराके नमोली गांव में हुयी. है स्कुल अल्मोरामे हुवा। आगे बढक़र पांडेजिने ईंग्लैंड में नेवल इंजीनियरिंग  डिग्री हासिल की और इस सिनसलेम काम के वजह से  जहाज में सैर किया। 

 वैवाहिक जीवन :

दिसम्बर १९६८ में श्री. हंसा दत्त पाण्डेजीने (२३) ची. सौ. मोहिनीपांडेजी (१७) से शादी की

 पांडेजीके बच्चे :

१. राधा पांडे, (१९७०) बी.कॉम ( ें ै ै टी )  पति : श्री गिरीश चंद्र जोशी, नेवी कप्तान,
२. चंद्र शेखर  (१९७८) बी. टेक ; एम्. बी. ऐ ग्लास्गो  यु.के से प्राप्त हुयी। मुम्बईमे विप्रो कंपनीमें  काम करते थे अभी यु. के में है।

३. हेमलता पांडे, (१९८६) लोनी में बीड़ी एस पदवी हासिल की। यूके का वेल्स से फोरेंसिक डेंटिस्ट्री में पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा हासिल की। प्रस्तुत में वे के.ी. एम् अस्पताल में फोरेंसिक  डेंटिस्ट्री
प्रभाग के मुखिया के रूप में काम कर  रही है।
हीरा बल्लभ पांडेजी (निवृत्त सेल्स टेक्स अफसर ) (हंसा दत्त जी के चचेरे बड़ा भाईसाब है )
इन्होने हंसडत जी का जीवन में एक बड़ी प्रेरणा के रूप में काम किया। पांडेजी का जीवन के प्रमुख निर्णय लेनेके समय में मार्ग दार्शन किया,और सहायता भी की।  हंसा दत्त पांडे  हीराबल्लभ पांडेजी के प्रशंसक है. बहुत आदर करते है ; 

जॉगर्स पार्क के अध्यक्ष बननेका समया में :

हिमालय जॉगर्स पार्क के छेरमन  के रूप में  कई वर्षों से योगदान दे रहे है। बहत ही सरल स्वभावी, हस मुखी सदा सहाय करनेमे  रूचि  रखनेवाले ऊंचे विचार वाले, सभीको प्यार  करनेवाले सज्जन, श्री हंसा दत्त पांडेजी(  के समय में जॉगर्स पार्क में कई अच्छी अच्छी काम हुए.
१. वरिष्ठ नागरिक विश्रांत जगह
२  वाटर कूलर की स्थापना (श्री गोविंद जी भा.नुशालीजी का सौजन्य से) और कई उत्तम  काम।
* आय एन एस दीपक जहाज से लेकर,मर्चंट नेवीमे सेकंड इंजीनियर के रूप में  काम करनेके बाद निवृत हो चुके है ।
अब पांडे जी सामजीक कल्याण  कार्योमे अपने आप को समर्पित किया है।

Link :