April 17, 2016

हिमालय जॉगर्स पार्क का वार्षिक अधिवेशन सन २०१६ के. एप्रिल महीना, १७ ता. संध्या में सम्पन्न हुई ।

गर्मी बहुत बढ़ गयी है । बच्चे बादल का स्वागत कर रहे है


गर्मी बहुत बढ़ गयी है ।  बच्चे  बादल का स्वागत कर रहे है 

बच्चे चॉकलेट मांग रहे है । 


On 'Hanuman Jayathi day' (22nd, April, 2016, Friday) we went to pray at the  'Sankat mochan Hanuman mandir', Govindnagar, Ghatkopar west, in the evening.


Deshpande ji, and Venkatesh, while coming back from The Hanuman mandir, wanted to take rest at the Municipal Gardens. The pics were taken by one boy,



Please enjoy this view !

हिमालय जॉगर्स पार्क का वार्षिक अधिवेशन सन २०१६ के. एप्रिल महीना, १७ ता. संध्या में सम्पन्न हुई। सदस्य गण, बड़े मात्रा में उपस्थित होकर, शाम की शान बढायि । 

                                      प्रकाश जगताप अपनी राय प्रकट कर रहे है  । 

कालोनी के सभी सक्रिय कार्यकर्ताए 

                     डा अनंत कृष्णा साब समय निकाल कर मीटिंग में उपस्थित रहे  । 

राष्ट्रगीत ।  

   राष्ट्र गीत  

                                                             बच्चे  खुश है । 

मीटिंग में भाग लेने के लिए सभी कालोनी के नागरिक बहुत संख्या में उपस्थित थे ।  खेद इस बात की है, कि  सही समय में कुर्सियां नहीं आने की बजह से,  वरिष्ठ नागरिक, महिलाँए और बच्चौं को असुविधा हुए । इसके लिए हम सभी से क्षमा चाहते है ।


- प्रसक्त समिति  सभी कार्य करताये । 


निचे दिया हवा लिंक को खीम्च लीजिए । धन्यवाद।  

https://goo.gl/photos/nr5ePrj2rgseRePn7










April 1, 2016

Shri. Hansa datta pandeji and family toured Europe in 2015-16. This is one of the places they visited at Norway !

श्री हंसा दत्त पाँडे जी, अपने परिवार के साथ, यूरोप में सैर कर रहे है । नार्वे देश के प्रकृति संदर्य का मजा ले रहे है।

Pandeji's son and grand daughter...

पांडेजी कई  जगहोमे  में सैर कर रहे है 
इस जहह का परिचय सिर्फ पांडे जी से बात करनेसे होगा  
नार्वे देश के ऑस्लो शहर के  पास, स्थित नोबेल शांति भवन के सामने नोबेल शांति पुरस्कार विजेता श्री।  मोहम्मद यूनुस के चरण  निशानी पर श्री. हंसा दत पांडेजी के पोती कदम रखने केलिए उत्सुक है । 

Some come in the evening ~    

             श्री आनंद जी, शाम के समय में आतेही है. लेकिन सुबह भी नियमित रूप रोज आते है।
                             वरिष्ठ महिलाये रोज आकर   हनुमद चालीसा पठन करते है।  
                                    आनंद जी जॉगिंग के बाद, भगवान के ध्यान करते है। 
                              वेंकटेश जी, रोज सुबह और शाम  के समय जॉगिंग करते है. 
                                            बच्चे सभी तरह की खेलौं में भाग लेते है.  
                                              बच्चे सभी तरह की खेलौं में भाग लेते है.